रज़ा फ़ाउण्डेशन की वेबसाइट पर आपका स्वागत हैं।

कवि समवाय 2018 II 23-25 फ़रवरी 2018 II त्रिवेणी कला संगम, नयी दिल्ली
21-Feb-2018 12:43 PM 3665     

प्रियवर,

रज़ा उत्सव के अवसर पर आयोजित

कवि समवाय 2018

तम शून्य में जगत समीक्षा

 23-25 फ़रवरी 2018 को त्रिवेणी कला संगम, नयी दिल्ली में

आप सादर आमंत्रित हैं।

 

अशोक वाजपेयी

प्रबंध न्यासी

 

 

 

कवि समवाय

तम शून्य में जगत समीक्षा

 

 23 फ़रवरी 2018

        04.30 बजे                       :        पंजीकरण

        05.15 बजे                       :        आरंभिक वक्तव्य

        05.30 से 07.00 बजे               :        शुभारम्भ

                                                        चन्द्र प्रकाश देवल, नरेश सक्सेना,  अष्टभुजा शुक्ल बाबुषा कोहली, व्योमेश शुक्ल

24 फ़रवरी 2018

        10.30 बजे से 11.30 बजे   :        कविताएँ

                                                            नंदकिशोर आचार्य, अनामिका, अरुण कमल, मंगलेश डबराल

        11.30 बजे से 12.30 बजे    :        ‘कविता की समझ और पहुँच’: चर्चा

                                 अविनाश मिश्र, अपूर्वानन्द, ओम थानवी, आशीष त्रिपाठी

        12.30 बजे से 01.30 बजे   :        दोपहर का भोजन

        01.30 बजे से 2ः30 बजे    :        कविताएँ

                                                             विजय कुमार, वाज़दा खान, बोधिसत्व, निर्मला गर्ग

      02.30 बजे से 03.15 बजे           :        ‘हिंदी कविता और रज़ा’: चर्चा

                                                             उदयन वाजपेयी, प्रयाग शुक्ल, पुरुषोत्तम अग्रवाल

       03.45 बजे से 04.30 बजे           :        कविताएँ

                                                            विनय विश्वास, पीयूष दईया, तेजी ग्रोवर, विष्णु खरे

        04.30  बजे से 05.15 बजे          :        ‘कविता और अन्तःकरण’: चर्चा

                                                             गोपेश्वर सिंह, विजय कुमार, माधव हाड़ा, विवेक निराला

25 फ़रवरी 2018

        10.30 बजे से 11.30 बजे   :        कविताएँ

                                                     राजेश जोशी, उदयन वाजपेयी, आशीष त्रिपाठी, विवेक निराला

        11.30 बजे से 12.30 बजे   :        ‘तम शून्य में जगत समीक्षा: कविता के अँधेरे-उजाले’

                                                 अरुण देव, अनामिका, नंदकिशोर आचार्य,  अरुण कमल, व्योमेश शुक्ल

        12.30 बजे से 01.30 बजे   :        कविताएँ

                                                            पारुल पुखराज, सविता सिंह, उमाशंकर चौधरी, गीत चतुर्वेदी

        01:30 बजे से 02:30 बजे   :        दोपहर का भोजन

        02.30 बजे से 03.30 बजे   :        ‘आज मुक्तिबोध’: चर्चा

                                                 अर्चना वर्मा, विष्णु खरे, बोधिसत्व, विनय विश्वास

        03.30 बजे से 04.30 बजे     :     कविताएँ

                                                प्रयाग शुक्ल, अरुण देव, ध्रुव शुक्ल, अविनाश मिश्र

        04.30 बजे               :        समापन

Copyright © 2016 - All Rights Reserved - The Raza Foundation - Version 15.00 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^