बातचीत Next
सिनेमा कला और संसार कुमार शहानी से उदयन वाजपेयी की बातचीत
ऋत्विक घटक और सत्यजीत राय के बाद कुमार शहानी और मणि कौल सम्भवतः देश के सबसे अध्ािक महत्वपूर्ण फि़ल्मकार रहे हैं। इनकी फि़ल्मों ने न सिर्फ़ हमारे फि़ल्म के देखने में बुनियादी बदलाव लाया है बल्कि इन फि़ल्मों की रौशनी में हम वास्तविकता और स्वयं अपने ...
आधुनिक भारत की आधारशिलाएँ आशीष नन्दी से उदयन वाजपेयी की बातचीत
वर्ष 1937 को भागलपुर में जन्मे आशीष नन्दी देश के श्रेष्ठ विचारकों में एक हैं। वे राजनैतिक मनोविश्लेषक, समाजशास्त्री और आधुनिकता के समर्थ आलोचक हैं। आशीष नन्दी ने कलकत्ते में चिकित्सा शिक्षा को बीच में ही छोड़कर नागपुर के हिसलाॅप महाविद्यालय से समाज...
प्रवास की सुदीर्घ साधना
कृष्ण बलदेव वैद से उदयन वाजपेयी की बातचीत कृष्ण बलदेव वैद देश के अग्रणी उपन्यासकारों में हैं। वैद साहब ने अपने लगभग हर उपन्यास में उपन्यास लेखन के क्षेत्र में नये प्रयोग करने का जोख़िम उठाया है। वैद साहब ने ‘उसका बचपन...
उपन्यासकार का सफ़रनामा शम्सुर्रहमान फ़ारूक़ी से उदयन वाजपेयी की बातचीत
इस बार जब आया हूँ, दिल्ली बदली हुई है। मुझे लम्बे समय तक वह निर्मल वर्मा की कहानियों से पैदा हुई लगती रही थी जिनकी सड़कों पर गर्मियों के दिनों में धूल के बगूले उठते थे, तेज़ धूप से बचने लड़कियाँ दुपट्टों से अपना मुँह छिपाती थीं। सर्दियों के पास आत...
Copyright © 2016 - All Rights Reserved - The Raza Foundation - Version 19.09.26 Yellow Loop SysNano Infotech Structured Data Test ^